Hindi English Sunday, 21 July 2024
BREAKING
युवाओं ने बस सर्विस की मांग को लेकर परिवहन विभाग के निदेशक को सौंपा ज्ञापन आमिर का जीवन पूरे विश्व के लिए प्रेरणा हैः बंडारू दत्तात्रेय पंजाब की 100 महिलाओं को कॉरपोरेट संगठनों की लीडर बनाने की कवायद - पंजाब 100 सेक्टर 42 कम्युनिटी सेंटर में फ्री मेडिकल चेकअप कैंप आयोजित चंडीगढ़ वन विभाग और टीम सॉल्यूशंस ने रन फ़ॉर फारेस्ट का किया आयोजन देश की अदालतों में महिलाओं के इंसाफ की लड़ाई लड़ेगी दिशा वूमैन वैलफेयर ट्रस्ट:हरदीप कौर पार्क हॉस्पिटल में पार्किंसनिज़्म उपचार में नवाचार डीबीएस का इस्तेमाल शुरू हंसाली रन 2024 को गुरुद्वारा सिंह शहीदां सोहाना मोहाली से पहले प्रोमो रन को मिली जबरदस्त प्रतिक्रिया बुडो काई डू मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के खिलाड़ियों ने लगाए पौधे प्राचीन कला केंद्र में युवा संतूर वादक डॉ बिपुल कुमार रॉय ने प्रभावशाली संतूर वादन से खूब समां बांधा

हरियाणा

More News

9वीं से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थी पढ़ाई के साथ सीखेंगे मूर्तिकला का हुनर

Updated on Tuesday, June 11, 2024 17:28 PM IST

पंचकूला - कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग व शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित ‘टाबर उत्सव’ बन रहा है अनूठी पहल’ कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग हरियाणा के कला एवं सांस्कृतिक अधिकारी (मूर्तिकला) हृदय कौशल, ने बताया कि जिला के विभिन्न सरकारी स्कूलों के 9वीं से 12वीं कक्षा के लगभग 40 से 50 विद्यार्थी अब स्कूलों के टाबर उत्सव के तहत किताबी ज्ञान के साथ साथ मूर्तिकला का हुनर सीखेंगे। हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग व शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वावधान में यह कार्यक्रम 30 जून तक सुबह 8 बजे से 11 बजे तक ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान चलेगा। पीएम श्री राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पंचकूला में इस उत्सव के तहत बच्चों को मूर्तिकला का हुनर देना शुरू कर दिया गया है।

यह प्रशिक्षण आधुनिक मूर्तिशिल्प क्ले मॉडलिंग, रिलीफ एवं थ्री डी स्कल्पचर आर्ट में हरियाणवी संस्कृति पर आधारित दिया जाएगा। ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान छात्र-छात्राओं का रचनात्मक, कलात्मक विकास करवाने के लिए यह प्रशिक्षण बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाने में कारगर सिद्ध होगा। जिला के विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों को एक स्थान पर एकत्रित कर मूर्तिकला का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इससे विद्यार्थी भविष्य में कला प्रतियोगिताओं में बढ़-चढ़कर भाग लेने के साथ राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की मूर्ति शिल्प प्रतियोगिताओं के बारे में भी जानेंगे।

 

इस शिविर में राज्य के निपुण कलाकारों एवं सह कलाकारों द्वारा विद्यार्थियों को मूर्तिकला में पारंगत किया जाएगा और प्रयोग होने वाली सामग्री जैसे क्ले, पीओपी (अन्य माध्यम) व सामग्री आदि से लघु मूर्तिशिल्पों को बना कर रंगों से हुनर भी सिखाए जाएंगे। जिससे भविष्य में उनको मूर्तिकला क्षेत्र में शिक्षा के साथ मूर्तिकला के क्षेत्र में प्रतियोगिता, रोजगार एवं मूर्तिकला के क्षेत्र में करियर बनाने का भी ज्ञान मिलेगा। प्रशिक्षण देने वाले कलाकारों द्वारा कला संस्कृति तथा मूर्तिकला के उत्थान संरक्षण, संवर्धन एवं विकास हेतु कला को निखारा जाएगा। इससे विद्यार्थी अपना कैरियर बना सकेंगे। जिला में आधुनिक मूर्तिकला के प्रचार-प्रसार हेतु यह शिविर अत्यंत सार्थक सिद्ध होगा। इस समर कैम्प में विद्यार्थियों को प्रतिदिन रिफैश्मेन्ट भी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि कक्षा 9 वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी इस शिविर में एक महीने हेतु निःशुल्क भाग ले सकते हैं।

टाबर उत्सव कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव वी. उमाशंकर, शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ जी. अनुपमा तथा सूचना जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक मनदीप सिंह बराड़ एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक जितेन्द्र कुमार तथा विभाग के अतिरिक्त निदेशक विवेक कालिया एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग के अतिरिक्त निदेशक श्रीमती अमृता सिंह के मार्गदर्शन में हृदय कौशल, कला एवं सांस्कृतिक अधिकारी (मूर्तिकला) तथा कार्यक्रम अधिकारी (कल्चर) अमनप्रीत कौर के मार्गदर्शन में जिला में किया जा रहा है।

इस ग्रीष्मकालीन शिविर ‘टाबर उत्सव’ का उद्देश्य होनहार छात्र-छात्राओं को मूर्ति शिल्प कला में अपनी प्रतिभा निखारने व लुप्त हो रही मूर्तिकला के विकास के उद्देश्य के साथ-साथ होनहार कलाकारों के मार्गदर्शन में सरकारी स्कूल स्तर के विद्यार्थियों को कला के क्षेत्र में तकनीकी दृष्टिकोण प्रयोगात्मक अभ्यास के साथ लर्निंग बाय डूइंग प्रोसेस के माध्यम से मूर्ति शिल्प व क्राफ्ट की सौंदर्यात्मक एवं विभिन्न माध्यमों में तकनीकी प्रशिक्षण भी मिलेगा।

मूर्तिशिल्प एक मात्र ऐसा विषय है जिसमें सभी विषयों का अध्ययन एक साथ हो जाता है। शारीरिक, मानसिक एवं बौधिक ज्ञान को नवीनता प्रदान करता है। हरियाणा राज्य में लुप्त होती मूर्तिकला का विकास एवं विभिन्न माध्यमों में जैसे धातु लकड़ी, पत्थर, पीओपी, टैराकोटा, कांच, वैल्डिंग, सिरामिक, असेम्बलेज आदि माध्यमों से भी अवगत करवाया जाएगा। कक्षाओं को प्रयोगात्मक व रोचक बनाने के लिए लाईव मोडल डेमो से भी कार्य करवाया जाएगा। जिला के विद्यार्थी तकनीकी व कलात्मक दृष्टिकोण से लाभान्वित होंगे।

Have something to say? Post your comment
आमिर का जीवन पूरे विश्व के लिए प्रेरणा हैः बंडारू दत्तात्रेय

: आमिर का जीवन पूरे विश्व के लिए प्रेरणा हैः बंडारू दत्तात्रेय

किसी भी उम्र में करें अन्न दान, दान में उम्र कोई पैमाना नही: रूंगटा

: किसी भी उम्र में करें अन्न दान, दान में उम्र कोई पैमाना नही: रूंगटा

बुडो काई डू मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के खिलाड़ियों ने लगाए पौधे

: बुडो काई डू मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के खिलाड़ियों ने लगाए पौधे

पंचकूला का प्रतिनिधि होने के नाते लोगों की समस्याओं को हल करवाना मेरी प्राथमिकता -  ज्ञानचंद गुप्ता

: पंचकूला का प्रतिनिधि होने के नाते लोगों की समस्याओं को हल करवाना मेरी प्राथमिकता - ज्ञानचंद गुप्ता

खिलाड़ियों को आधुनिक सुविधाएं मुहैया करवा रही हरियाणा सरकार - खेल राज्य मंत्री संजय सिंह

: खिलाड़ियों को आधुनिक सुविधाएं मुहैया करवा रही हरियाणा सरकार - खेल राज्य मंत्री संजय सिंह

अतिरिक्त उपायुक्त ने समाधान शिविर में जिला के 20 लोगों की सुनी समस्याएं

: अतिरिक्त उपायुक्त ने समाधान शिविर में जिला के 20 लोगों की सुनी समस्याएं

18वें अश्वनी गुप्ता ममोरियल पंचकूला डिस्ट्रीक बैडमिंटन चेम्पियनशीप -2024 का हुआ आगाज

: 18वें अश्वनी गुप्ता ममोरियल पंचकूला डिस्ट्रीक बैडमिंटन चेम्पियनशीप -2024 का हुआ आगाज

स्वास्थ्य विभाग ने खड़क मंगोली में लगाया टीवी जांच शिविर

: स्वास्थ्य विभाग ने खड़क मंगोली में लगाया टीवी जांच शिविर

लोगों ने ली सीपीआर ट्रेनिंग, सुदेश भंडारी चैरिटेबल ट्रस्ट ने किया आयोजन

: लोगों ने ली सीपीआर ट्रेनिंग, सुदेश भंडारी चैरिटेबल ट्रस्ट ने किया आयोजन

एसई एके राणा ने सेक्टर 30 एक्सटेंशन पिंजौर के पार्कों की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए

: एसई एके राणा ने सेक्टर 30 एक्सटेंशन पिंजौर के पार्कों की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए

X