Hindi English Thursday, 29 February 2024
BREAKING
साहित्यकारों, लेखकों, प्रदर्शनीकारों, कलाकारों की उम्दा भागीदारी के साथ सम्पन्न हुआ ‘सिख आर्ट एंड फिल्म फेस्टिवल 2024’ सिट्को ने जीएमएसएस-10 चंडीगढ़ के छात्रों के लिए एफएएम टूर आयोजित किया पंजाब दे शेर ने सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग के अंतर्गत लांच की अपनी टीम जर्सी मुख्यमंत्री ने होटल वाइल्ड फ्लावर हॉल पर सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत किया मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग के 15 टिप्परों को रवाना किया ब्रहाज्ञान के द्वारा ही सहज अवस्था प्राप्त की जा सकती है - माता सुदीक्षा मस्त मस्त गर्ल रवीना टंडन का जलवा बिखरा फेमिना के कवर पेज पर चंडीगढ़ संगीत नाटक अकादमी द्वारा 'श्री राम कला उत्सव' का आयोजन अपने लगातार पांचवें संस्करण के साथ एक बार फिर लौटा सिखलेंस नर्सिंग कॉलेजों में दाखिला प्रक्रिया बने सरल, पंजाब की छात्र प्रतिभाओं को मिलेगा बल, नर्सिंग कॉलेज संघ का आह्वान

पंजाब

More News

कैप्टन ने की पंजाब से पाकिस्तान को पानी का बहाव रोकने के लिए केंद्र को पहल करने की अपील

Updated on Wednesday, May 09, 2018 10:07 AM IST

चंडीगढ़ - पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रावी -ब्यास के पानी से अधिक से अधिक फ़ायदा उठाने को यकीनी बनाने के लिए केंद्र से अपील की है और इसके साथ ही पंजाब से पाकिस्तान की ओर जाते पानी के बहाव को रोकने के लिए तौर-तरीके ढूँढने के लिए माहिरों का तकनीकी पैनल गठित करने का सुझाव दिया है ।

आज यहां पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मसले पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की तरफ से लिखा गया पत्र अभी उनको नहीं मिला परंतु इसके साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी सरकार राज्य के लिए ओैर पानी सुरक्षित करनेे के लिए सभी संभावी कदम उठाऐगी।

पाकिस्तान को पानी के बहाव का कारण बफऱ् के पिघलने के नतीजे के तौर पर रावी, ब्यास और सतलुज नामक तीन नदियों  में पानी का स्तर बढऩे का जिक्र करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने जल संसाधन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखकर पाकिस्तान को पानी का बहाव रोकने के लिए हिमाचल प्रदेश में डैमों में अतिरिक्त पानी के भंडारण का सुझाव दिया है। हिमाचल प्रदेश में स्टोर किये सभी पानी को नियंत्रित करने का सुझाव देते हुए मुख्यमंत्री ने इस मामले में केंद्र की तरफ से पहलकदमियां किये जाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया है।

गौरतलब है कि इंडस जल समझौते 1960 के अधीन रावी, ब्यास और सतलुज नदियों में उपलब्ध पानी का बिना रोक -टोक प्रयोग करने की भारत को आज्ञा मिली थी । ओजह, जल्यालिया, तरना आदि जैसी ट्रब्यूटरियों के द्वारा रावी का बड़ी मात्रा में पानी अंतरराष्टी्रय सरहद को पार कर रहा है । रावी नदी के अंतरराष्ट्रीय सरहद पार करने वाले पानी की मात्रा 0.58 एमए एफ का अनुमान लगाया गया था। पंजाब सरकार ने 2015 में एक रिपोर्ट पेश करके इसके दो विकल्प सुझाए थे। पहला, मकोरा पत्तन से यू बी डी सी में पानी को पंप करना जो 30 किलोमीटर फासले पर 85 फुट की लिफ्टिंग के साथ 79000 फूट आर डी के साथ सम्बन्ध था । दूसरा, जैनपुर से यू बी डी सी में पानी पंप करना जो 32 किलोमीटर के फासले पर 96 फूट की लिफ्टिंग के साथ 79000 आर डी के साथ सम्बन्ध था।

3 मार्च, 2017 को भारत सरकार ने जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा पुर्न उत्थान के सचिव की अध्यक्षता अधीन केंद्रीय के साथ कमिशन और सिंचाई विभाग से सबंधित अधिकारियों की राष्ट्रीय प्रोजेक्टों को लागू करने के लिए एक उच्च स्तरीय स्टीयरिंग कमेटी गठित की । इसने प्रस्तावित दूसरे रावी -ब्यास लिंक प्रोजैक्ट के स्थान का दौरा करना था और इसकी संभावना संबंधी अपनी रिपोर्ट पेश करनी थी । इस टीम ने 5 दिसंबर, 2017 को इस स्थान का दौरा किया और देश के हित में रावी के पानी का अधिक से अधिक प्रयोग करने के लिए सोच बनाई। इसका विचार था कि रावी, ब्यास और सतलुज नदियों के अनुपयोग पानी के प्रयोग के लिए अधिक से अधिक संभावना है और रावी का पानी ब्यास को तबदील करने की तकनीकी संभावना है।

Have something to say? Post your comment
राज्य सरकार की जनहितैषी और विकास प्रमुख स्कीमों का लाभ हरेक योग्य लाभपात्री तक पहुँचाया जाये- मुख्यमंत्री द्वारा अधिकारियों को आदेश

: राज्य सरकार की जनहितैषी और विकास प्रमुख स्कीमों का लाभ हरेक योग्य लाभपात्री तक पहुँचाया जाये- मुख्यमंत्री द्वारा अधिकारियों को आदेश

अमृतसरियों ने पाईटैक्स की मस्ती के साथ मनाया संडे

: अमृतसरियों ने पाईटैक्स की मस्ती के साथ मनाया संडे

सिडबी ने पाईटैक्स में लगाया स्वाबलंबन मेला:मौर्य

: सिडबी ने पाईटैक्स में लगाया स्वाबलंबन मेला:मौर्य

पंजाब में लागू हो एक जिला एक उत्पाद योजना:सचदेवा

: पंजाब में लागू हो एक जिला एक उत्पाद योजना:सचदेवा

पीएचडी चैंबर ने किया महिला उद्यमियों का सम्मान

: पीएचडी चैंबर ने किया महिला उद्यमियों का सम्मान

रक्तदान के प्रति फैली भ्रांतियों को दूर करने की जरूरत:थोरी

: रक्तदान के प्रति फैली भ्रांतियों को दूर करने की जरूरत:थोरी

पंजाब में बार्डर टूरिज्म को बढ़ाने के लिए बनेगी पॉलिसी:राखी गुप्ता

: पंजाब में बार्डर टूरिज्म को बढ़ाने के लिए बनेगी पॉलिसी:राखी गुप्ता

पंजाब के साथ कारोबार को आगे बढ़ाएंगे विश्व के पांच देश

: पंजाब के साथ कारोबार को आगे बढ़ाएंगे विश्व के पांच देश

महिला सशक्तिकरण के लिए जरूरी है उद्यमिता को बढ़ावा देना:जिम्मी शेरगिल

: महिला सशक्तिकरण के लिए जरूरी है उद्यमिता को बढ़ावा देना:जिम्मी शेरगिल

पंजाब में 1150 करोड़ से बदलेगी फोकल पवाइंटों की नुहार:अनमोल गगन मान

: पंजाब में 1150 करोड़ से बदलेगी फोकल पवाइंटों की नुहार:अनमोल गगन मान

X