Hindi English Thursday, 30 May 2024
BREAKING
मै सांसद बनू या ना बनू परन्तु चंडीगढ़ वासियों के हर सुख दुःख में साथ खड़ा रहूंगा, यह एक साधु का वचन है: महन्त रवि कान्त मुनि उदासी       राज कॉमिक्स “द अलायंस: प्रोजेक्ट मेटामोरफ़ोसिस" के साथ प्रतिष्ठित सुपरहीरो “सुपर कमांडो ध्रुव" और “डोगा" को जीवंत कर रहा है। मतगणना के लिए किए जा रहे आवश्यक प्रबंध - डा. यश गर्ग अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए दूसरे दिन 105 पीटीआई व डीपीई को दिया प्रशिक्षण अग्निवीर भर्ती के काॅमन प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित पवित्र चार धाम यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्रियों के स्वास्थ्य की देखभाल लिए बनाया ई-स्वास्थ्य धाम ऐप फूली के ट्रेलर ने इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया: अविनाश ध्यानी की बहुप्रतीक्षित फिल्म सिनेमाघरों में होगी रिलीज 10वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए 100 पीटीआई व डीपीआई को दिया योग प्रशिक्षण मतगणना के लिए सभी आवश्यक प्रबंध पूरे - डा. यश गर्ग मासिक धर्म स्वच्छता दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों में हुए कार्यक्रम

स्पोर्टस

More News

कोविड-19 के बाद कैसे होंगे खेल : भारत के दिग्गज खिलाड़ियों की राय

Updated on Monday, April 27, 2020 15:07 PM IST

नयी दिल्ली - क्या दर्शक फिर से स्टेडियमों में लौटेंगे? क्या विदेशों में अभ्यास पहले की तरह आसान होगा? संपर्क वाले खेलों में क्या होगा जिनमें सामाजिक दूरी नहीं बनाये रखी जा सकती है? क्या कोविड-19 महामारी से उबरने के बाद खेल और खेलों को देखना पहले जैसा ही आसान होग?

ऐसे ही कई सवालों पर पीटीआई-भाषा की टीम ने देश के चोटी के खिलाड़ियों से बात की जिस पर उनकी मिश्रित प्रतिक्रिया रही। यहां पर हम इन खिलाड़ियों की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

सचिन तेंदुलकर (भारत के दिग्गज बल्लेबाज) : निसंदेह दुनिया अभी जिंदगी की सबसे बड़ी चुनौती से गुजर रही है। मुझे लगता है कि (गेंद को चमकाने के लिये) लार का उपयोग करने में खिलाड़ी कुछ समय के लिये सतर्क रहेंगे। यह बात उनके दिमाग में रहेगी।

खिलाड़ी कुछ समय के लिये गले मिलने से बचेंगे। मैं ऐसा मानता हूं। वे शुरू में सतर्क रहेंगे और सामाजिक दूरी बनाये रख सकते हैं।

अभिनव बिंद्रा (भारत के पहले ओलंपिक व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता): खेल लोगों को आपस में जोड़ता है तथा दुनिया भर के हजारों भागीदारों और दर्शकों में खुशी का संचार करता है। भविष्य में सुरक्षा और बचाव पर अधिक ध्यान दिया जाएगा लेकिन खेलों के प्रति आकर्षण कम नहीं होगा।

कोविड-19 के बाद की स्थिति भारत के लिए फायदेमंद हो सकती है। शायद काफी विदेशी टूर्नामेंट और शिविर नहीं होंगे और ऐसे में भारत को उपयुक्त खेल बुनियादी ढांचा तैयार करने का मौका मिल सकता है।

बजरंग पूनिया (विश्व रजत पदक विजेता पहलवान) : कुश्ती संपर्क वाला खेल है। जब कुश्ती शुरू होगी तो आप किसी भी तरह से शारीरिक संपर्क से नहीं बच सकते। लेकिन मुझे नहीं लगता कि इसको लेकर किसी तरह की झिझक होगी। मुझे किसी तरह के बदलाव की संभावना नहीं लगती।

मुकाबले अधिक कड़े हो जाएंगे। सभी खिलाड़ी लंबी अवधि बाद वापसी करेंगे। उन्हें इतने लंबे विश्राम की आदत नहीं है। वे अपने मजबूत और कमजोर पक्षों का आकलन कर रहे हैं इसलिए टूर्नामेंट शुरू होने पर मुकाबले कड़े होंगे।

एम सी मेरीकोम (छह बार की विश्व चैंपियन, ओलंपिक कांस्य पदक विजेता) : हम सभी चीजों के फिर से पहले की तरह सामान्य होने के लिये प्रार्थनाएं कर रहे हैं लेकिन क्या ऐसा हो सकता है। नहीं। यह वायरस दुश्मन है जिसे पूरी तरह से कोई नहीं समझ पाया। खेलों में बदलाव होंगे। मेरा खेल संपर्क वाला है और मैं निजी तौर पर चिंतित हूं कि हम कैसे इससे पार पाएंगे।

मुझे लगता है कि अभ्यास भी व्यक्तिगत हो जाएगा। जहां तक दर्शकों की बात है तो वे खेल देखने के लिये आएंगे। मुझे इसमें समस्या नजर नहीं आती। लेकिन हां टूर्नामेंटों में स्वच्छता का स्तर काफी ऊपर चला जाएगा। विजेंदर सिंह (ओलंपिक कांस्य पदक विजेता) : मुझे लगता है कि दर्शकों को वापस लाना आसान नहीं होगा क्योंकि लोग अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहेंगे। भारत के बारे में हालांकि कुछ नहीं कहा जा सकता। यहां कुछ भी हो सकता है। लोग लंबे समय से घरों में है और हो सकता है कि वे पहला मौका मिलने पर ही स्टेडियम पहुंच जाएं।

बाईचुंग भूटिया (भारतीय फुटबाल टीम के पूर्व कप्तान) आज के जमाने में जबकि टेलीविजन और डिजीटल प्लेटफार्म हमारी जिंदगी के अहम अंग बन गये हैं तब मुझे लगता है कि स्टेडिमयों में दर्शकों की कमी से खेल व्यवसाय प्रभावित नहीं होगा। मुझे लगता है कि इससे टीवी और डिजीटल प्लेटफार्म को फायदा होगा।

बी साई प्रणीत (विश्व कांस्य पदक विजेता) : हम काफी यात्राएं करते हैं और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों की बहाली के बाद मुझे लगता है कि कोई भी चीन, कोरिया और यहां तक कि यूरोपीय देशों का दौरा करने से घबराएगा। चाहे आप खेल रहे हों या किसी रेस्टोरेंट में खाना खा रहे हों, वायरस के संपर्क में आने डर हमेशा बना रहेगा।

महेश भूपति (कई बार के ग्रैंडस्लैम विजेता) : खेल नहीं बदलेंगे। कोविड-19 के समाप्त होने के बाद सब कुछ पहले की तरह सामान्य हो जाएगा।

जेजे लालपेखलुवा (भारतीय फुटबालर) : चीजें सामान्य होने में थोड़ा समय लगेगा लेकिन एक बार सब कुछ सामान्य होने के बाद हम खेल खेलने से नहीं डरेंगे।

सरदार सिंह (भारतीय हाकी टीम के पूर्व कप्तान) : जहां तक ओलंपिक की तैयारियों का सवाल है तो सकारात्मक बात यह है कि टीमों को अभ्यास का अधिक समय मिलेगा लेकिन इसका नकारात्मक पक्ष यह है कि उन्हें नये सिरे से रणनीति बनानी होगी।

एक बार खेल शुरू होने के बाद सामाजिक दूरी के नये मायने होंगे। यह देखना होगा कि संपर्क वाले खेलों जैसे मुक्केबाजी, कुश्ती में इसे कैसे लागू किया जाता है। हाकी और फुटबाल में भी करीबी संपर्क आम बात है।

Have something to say? Post your comment
तीन लाख रुपये की इनामी राशि वाला इंडो ओउसी फ्रेंडशिप कप 2 जुलाई से

: तीन लाख रुपये की इनामी राशि वाला इंडो ओउसी फ्रेंडशिप कप 2 जुलाई से

मयंक यादव ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ अपनी गेंदबाजी से उगली आग

: मयंक यादव ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ अपनी गेंदबाजी से उगली आग

ड्रीम11 आईपीएल 2020 से पहले सोनू सूद एवं डिज़्नी+ हॉटस्टार वीआईपी मिलकर क्रिकेट का जोश बढ़ाएंगे।

: ड्रीम11 आईपीएल 2020 से पहले सोनू सूद एवं डिज़्नी+ हॉटस्टार वीआईपी मिलकर क्रिकेट का जोश बढ़ाएंगे।

अगले डेढ़ साल शास्त्री तय करेंगे भारतीय टीम की दशा-दिशा

: अगले डेढ़ साल शास्त्री तय करेंगे भारतीय टीम की दशा-दिशा

भारत ने श्रीलंका को 5 विकेट से हरा टी-20 सीरिज जीती

: भारत ने श्रीलंका को 5 विकेट से हरा टी-20 सीरिज जीती

राष्ट्रमंडल खेलो से निशानेबाजी को हटा गया तो आपत्ति पेश करेंगे - आईओए

: राष्ट्रमंडल खेलो से निशानेबाजी को हटा गया तो आपत्ति पेश करेंगे - आईओए

थाईलैंड ओपन में प्रणीत पहुंचे फाइनल में

: थाईलैंड ओपन में प्रणीत पहुंचे फाइनल में

निशानेबाजी विश्व कप में भारत के मैराज ने जीता रजत

: निशानेबाजी विश्व कप में भारत के मैराज ने जीता रजत

टी-20 रोमांचक मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत की 3-0 से जीत

: टी-20 रोमांचक मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत की 3-0 से जीत

जीत से टवंटी 2० के लिये मनोबल बढ़ेगा: धोनी

: जीत से टवंटी 2० के लिये मनोबल बढ़ेगा: धोनी

X