Thursday, 23 September, 2021
ब्रेकिंग न्यूज़ :
वेस्टर्न डिजिटल ने मैक और पीसी यूज़र्स के लिए पॉकेट साईज़ की डब्लूडी एलीमेंट्स एसई एक्सटर्नल एसएसडी प्रस्तुत कीबच्चे समाज को प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका का करते हैं निर्वाहन - अश्विनी चौबेअखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस Koo (कू) में शामिल हुआदी ब्रियू एस्टेट ने मोहाली में खोला अपना सातवां आउटलेटकोरोना की रोकथाम के लिये भाप लेना सबसे ज्यादा कारगर - कत्यालकोरोना, करूणा और बुद्ध के 6 आर्य सत्य - डा.बासुदेव प्रसादपुराने कंटेंट को फिर से कैसे डाले और उस से पैसे कैसे कमाएँरेलवे पेसेन्जर्स के लिए भारत मे तेजी से उभर रहा है रेल रेस्तरो फूड ऐप्पAARDY.com यूएस के लीडिंग यात्रा बीमा मार्किट में से एककिसानों के लिए मेरे दरवाजे हमेशा खुले - दलाल
हरियाणा न्यूज़

पर्यावरण संकट का समाधान भारतीय संस्कृति में व्याप्त प्रकृति के सम्मान की भावना से ही संभव : डॉ. चौहान

August 06, 2020 04:31 PM

असंध - हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष डॉ. वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि प्रकृति और पर्यावरण के संरक्षण के प्रति हमारे पूर्वज वैदिक काल से ही सजग थे। दुनिया के सामने मौजूद पर्यावरण संकट का सामना प्राचीन भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों की तरफ़ लौट कर ही किया जा सकता है। वे आज यहाँ भारत विकास परिषद की असंध इकाई द्वारा आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि परिषद के सदस्यों को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता भारत विकास परिषद असंध के प्रधान सुरेश जलमाना और पौधारोपण अभियान के संयोजक डॉ. प्रवीण ने की।

डॉ. विरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि भारतीय समाज में वैदिक काल से ही पृथ्वी को माता मानने की परंपरा रही है और हमारे ऋषि मनीषियों ने वेदों में तो इन वृक्ष-वनस्पतियों को स्थान-स्थान पर नमस्कार किया गया है। नमो वृक्षेभ्यः हरिकेशेभ्यः, वनानां पतये नमः, ओषधीनां पतये नमः, वृक्षाणां पतये नमः आदि मंत्र इनके प्रमाण है। उन्होंने श्रीराम जन्मभूमि के भूमिपूजन के पावन अवसर पर पौधारोपण को एक अनूठी पहल बताया और कहा कि पौधारोपण को जन अभियान बनाने में भारत विकास परिषद सरीखे सामाजिक संगठन राज्य सरकार की बहुत मदद कर सकते हैं।

भारत विकास परिषद असंध इकाई के अध्यक्ष सुरेश गुप्ता जी ने पौधों को मानव जीवन का अभिना अंग बताया और कहा कि पौधों के महत्व को नकारने का ही परिणाम है कि प्रदूषण ने मानव जीवन को त्रस्त कर रखा है। 

भारत विकास परिषद असंध इकाई के उपाध्यक्ष अधिवक्ता नरेन्द्र शर्मा ने कहा की अच्छे स्वास्थ्य व मजबूत रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए वृक्षों का आसपास होना सदैव लाभदायक है । पौधों से, वृक्षों से प्राप्त स्वच्छ वायु स्वस्थ्य शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक है ।

भारत विकास परिषद असंध इकाई के सचिव लाभ सिंह राणा ने कहा कि कुछ भी भूल जाओ लेकिन नए पौधे लगाना और पौंधों को संरक्षित करना कभी मत भूलो। पौधों को भूलना मानव जीवन को भूलना है ।

भारत विकास परिषद असंध इकाई  के कार्यक्रम संयोजक डॉ. प्रवीण ने पौधारोपण को अत्यंत पुण्य का काम बताते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को पौधा जरूर लगाना चाहिए और वृक्ष बनने तक उसकी देख-रेख करनी चाहिए  ।

Have something to say? Post your comment
और हरियाणा न्यूज़
ताजा न्यूज़
वेस्टर्न डिजिटल ने मैक और पीसी यूज़र्स के लिए पॉकेट साईज़ की डब्लूडी एलीमेंट्स एसई एक्सटर्नल एसएसडी प्रस्तुत की उद्योगपति अजय हरिनाथ सिंह ने करोड़ों रुपये के सौदे के लिए संदीप सिंह के लीजेंड ग्लोबल स्टूडियो के साथ हाथ मिलाया 'केयूर शेठ का इनिशिएटिव 'बप्पा का मान, आपका सम्मान' बहुत इम्पोर्टेन्ट है' , मुनमुन दत्ता दीवानगी की रात तो सिर्फ एक शुरुआत है, 3 विंग्स प्रोडक्शन के काफी बड़े प्लान्स है, संतोष राव बच्चे समाज को प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका का करते हैं निर्वाहन - अश्विनी चौबे मीडिया फ़िल्म्सक्रॉफ्ट और नवरोज़ प्रासला प्रोडक्शंस ने की एक फेस्टिव गरबा गाने की घोषणा अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस Koo (कू) में शामिल हुआ माननीय गवर्नर श्री भगत कोश्यारी और अभिनेत्री हेमा मालिनी ने डेल्फिक काउंसिल ऑफ़ महाराष्ट्र का लोगो किया अनवील ड्रीम में एंट्री' और 'ना दूजा कोई' जैसे हिट गाने देने वाली सिंगर ज्योतिका तांगड़ी ने अपना अगला सिंगल 'ज़िन्दगी' किया रिलीज़ ‘चल मेरा पुत 2’ ने पाकिस्तानी एक्टर को कास्ट करके फिल्म फ्रेटर्निटी की एकता को तोडा अभिनेत्री मीनाक्षी दीक्षित ने बॉम्बे फिल्म के सोंग, कहना ही क्या’ को रिप्राइज किया, वीडियो देखें यसीर देसाई के लिए चेहरे में इमरान हाश्मी के लिए 'रंग दरिया' को गाना, एक सपने के सच होने जैसा है
Copyright © 2016 AbhitakNews.com, A Venture of Lakshya Enterprises. All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech