Tuesday, 07 December, 2021
ब्रेकिंग न्यूज़ :
ब्लॉकचेन में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का एकीकरण भविष्य में एक बड़ा कदम हैकोरोना वायरस के नए वैरिएंट के बाद इंडो-पोलिश फिल्म नो मीन्स नो की रिलीज़ डेट पोस्टपोन हुईइस धनतेरस, हीरो मोटोकॉर्प रहा उपभोगताओं का चहेता ब्रैंडदेसी ऐप Koo पर ट्रेंड हुआ '#MentalHealthZarooriHai', बॉलीवुड सितारों से लेकर नेताओं तक ने की अपीलभारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने मारी कू ऐप पर एंट्रीKoo App और मेट्रो हॉस्पिटल्स ने शुरू की है दिल की बीमारियों के लिए जागरुकता फैलाने की मुहिमवेस्टर्न डिजिटल ने मैक और पीसी यूज़र्स के लिए पॉकेट साईज़ की डब्लूडी एलीमेंट्स एसई एक्सटर्नल एसएसडी प्रस्तुत कीबच्चे समाज को प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका का करते हैं निर्वाहन - अश्विनी चौबेअखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस Koo (कू) में शामिल हुआदी ब्रियू एस्टेट ने मोहाली में खोला अपना सातवां आउटलेट
पंजाब न्यूज़

बेअदबी मामला: डेरा के वकीलों ने सरकार व पुलिस पर उठाए सवाल

July 14, 2020 07:17 AM

चंडीगढ़ - पंजाब में घटित हुए गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी के मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) जांच कर रही है और जिसका फैसला अभी सीबीआई अदालत में विचाराधीन है। सीबीआई अपनी क्लोजर रिपोर्ट में आरोपित सभी डेरा श्रद्धालुओं को बेगुनाह बता चुकी है ऐसे में पंजाब पुलिस  की स्पैशल इन्वैस्टीगेशन टीम (एसआईटी) को इस मामले में जांच करने का कोई अधिकार नहीं है। यह आरोप डेरा प्रेमियों के वकील विवेक कुमार, एडवोकेट केवल बराड़ और पंजाब राज्य स्टेट कमेटी के सदस्य हरचरण सिंह ने सोमवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में लगाए।

एडवोकेट विवेक कुमार ने बताया कि सीबीआई पिछले पांच सालों से वर्ष 2015 में पंजाब के जिला फरीदकोट के बरगाड़ी बेअदबी मामले में की जांच कर रही थी। जांच एजेंसी ने इस मामले में लंबी-चैड़ी जांच की और हर पहलू को बारीकी से परखा। एजेंसी ने इलाके की पंचायतों के ब्याने दर्ज करने के साथ-साथ महेंद्र पाल बिट्टू सहित कई डेरा श्रद्धालुओं की गिरफ्तारी करके उनके फिंगर प्रिंट, पॉलीग्राफ टैस्ट, लाई डिटैक्टर टैस्ट और ब्रेन मैपिंग सहित हर तरह की वैज्ञानिक जांच की।

इसके अलावा दूसरे शिकायतकर्ताओं की भी यही जांच की गई। सीबीआई दोनों पक्षों की जांच करके इस बिंदू पर पहुंची कि डेरा श्रद्धालु बेकसूर हैं और उन पर लगा कोई भी आरोप साबित नहीं होता। सीबीआई ने 2019 में मोहाली अदालत में क्लोजर रिपोर्ट पेश करके डेरा श्रद्धालुओं की बेगुनाही पर मोहर लगा दी। वहीं एडवोकेट केवल सिंह बराड़ ने सवाल उठाया कि जब तक सीबीआई मामले की जांच कर रही है तब तक कोई अन्य एजेंसी सामानांतर जांच कैसे कर सकती है।

देश के कानून के अनुसार दो जांच एजेंसियां एक साथ जांच नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि सीबीआई द्वारा पेश की गई क्लोजर रिपोर्ट पर मोहाली कोर्ट का अभी फैसला ही नहीं आया। इसलिए सीबीआई की जांच वापिस लेने का एसआईटी के पास कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि सीबीआई ने पंजाब और हरियाणा आईकोर्ट के उस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी हुई है, जिसमें हाईकोर्ट ने मामले की जांच एसआईटी को सौंपने के लिए कहा है परंतु सुप्रीम कोर्ट में यह मामला अभी विचाराधीन है।

सीबीआई और एसआईटी की जांच में बड़े अंतर

बेअदबी मामले के इकबालिया ब्यानों, चोरी में उपयोग की गई गाडिय़ों के तथ्यों पर सीबीआई और एसआईटी की जांच में बड़ा अंतर है। सीबीआई ने जहां गाड़ी की खरीद संबंधी सभी पहलुओं पर जांच की वहीं एसआईटी ने केवल गाड़ी कब्जे में ले ली और उसकी जांच नहीं की। जबकि जिस आल्टो कार का जिक्र मामले में हुआ वह आरोपित शक्ति सिंह ने 28 अगस्त 2016 को खरीदी, जबकि बेअदबी का मामला ही वर्ष 2015 का है। वहीं एक इंडिगो गाड़ी जिसका इस मामले में जिक्र उसकी भी जांच सीबीआई ने की और जांच में पाया कि यह गाड़ी 2017 में खरीदी गई। जबकि एसआईटी ने इस मामले में कोई जांच नहीं की, केवल गाड़ी कब्जे में ले ली।

Have something to say? Post your comment
और पंजाब न्यूज़
ताजा न्यूज़
ब्लॉकचेन में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का एकीकरण भविष्य में एक बड़ा कदम है ज्योतिका टांगरी का नया गाना हौली हौली स्टारिंग जरीन खान और बिग बॉस फेम प्रिंस नरुला हुआ रिलीज कोरोना वायरस के नए वैरिएंट के बाद इंडो-पोलिश फिल्म नो मीन्स नो की रिलीज़ डेट पोस्टपोन हुई इस धनतेरस, हीरो मोटोकॉर्प रहा उपभोगताओं का चहेता ब्रैंड मीडिया फिल्म्सक्राफ्ट का सॉन्ग ‘मिलके दिवाली मनाएंगे’ हुआ रिलीज, प्यार की भावनाओं को दर्शाता है यह गाना एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री और दुबई का संयोजन होगा मैजिकल- बिजनेस लीडर मधु शेखर भंडारी सत्यम श्रीवास्तव की बुक "द विल्डर ऑफ द त्रिशूल" को अपनी फिल्म के लिए एडाप्ट कर सकते हैं फिल्ममेकर नितेश तिवारी विशाल पांडे और किंजल दवे का गरबा सॉन्ग हुआ वायरल, लोगों को पसंद आ रहीं गुजराती बीट देसी ऐप Koo पर ट्रेंड हुआ '#MentalHealthZarooriHai', बॉलीवुड सितारों से लेकर नेताओं तक ने की अपील FWICE को उनके फर्जी और 440 करोड़ के झूठे दावों पर IMPPA ने जारी किया स्टेटमेंट किंजल दवे और विशाल पांडेय के साथ मीडिया फिल्म्सक्राफ्ट का गरबा एंथम 'गुजराती बीट' हुआ रिलीज़ हर साल एक अवार्ड जीतने का इरादा है - गौरांग दोषी
Copyright © 2016 AbhitakNews.com, A Venture of Lakshya Enterprises. All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech